बुजुर्ग महिला की दिनदहाड़े घर में घुस कर हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, पोती ने करवाई थी दादी की हत्या…

0
24

हरिद्वार – हरिद्वार के ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला चाकलान में विगत 14 मई को दिनदहाड़े घर में घुसकर वृद्ध महिला की हत्या कर दी गई थी। जिसका एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोबाल ने आज खुलासा कर दिया।

प्रेस वार्ता के दौरान एसएसपी ने बताया कि ज्वालापुर के मौहल्ला चाकलान निवासी पेशे से तीर्थ पुरोहित अनुराग शर्मा गंगा सप्तमी के अवसर पर पूजा अर्चना के लिए हर की पैड़ी गए हुए थे। उनकी बुजुर्ग मां घर पर अकेली थीं। दोपहर के समय चीख पुकार की आवाज सुन पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो उन्होंने बुजुर्ग महिला को लहुलुहान हालत में खून से सने फर्श में पाया।  अभिषेक शर्मा की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।  इस मामले में खुलासा के लिए अगले दिन कांग्रेसियों ने कोतवाली ज्वालापुर का घेराव भी किया। जिस पर आचार संहिता का उल्लंघन और सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया। पुलिस ने अलग-अलग एंगल से गहरी पड़ताल करते हुए घटनास्थल की ओर आने-जाने वाले रास्तों पर लगे अनेकों सीसीटीवी कैमरा फुटेज खंगाले। कई संदिग्धों से पूछताछ के साथ ही हत्या के दौरान आवाजाही करते दिख रहे एक संदिग्ध युवक से सख्ती के साथ पूछताछ की तो युवक ने हत्या की बात कबूलते हुए पूरे घटनाक्रम और हत्या की वजह सहित इसमें शामिल सभी किरदारों से पर्दा उठाया।

ये थी हत्या की वजह
संदिग्ध युवक बीबीए स्टूडेंट उदित झा ने पूछताछ में बताया कि मृतका की पोती भूमिका (काल्पनिक नाम) का अनुराग के साथ व उदित झा का कनखल निवासी आयशा (काल्पनिक नाम) के साथ अफेयर है। भूमिका और आयशा एवं उदित झा और अनुराग भी आपस में दोस्त हैं। आयशा और उदित झा के प्राइवेट फोटो/वीडियो मृतका की पोती भूमिका के पास थी। भूमिका अपने ब्वायफ्रेंड अनुराग को समय-समय पर काफी पैसे देती रहती थी और उसको i-Phone के लिए भी पैसे दिए थे। अनुराग लोकल स्तर पर मात्र 10 से 15 हजार रुपए के बीच की नौकरी करता था लेकिन भूमिका की वजह से उसको कभी भी पैसों की कमी नहीं रही। घर से धीरे-धीरे करके लगातार पैसे गायब होने पर मृतका अर्चना ने पैसे छुपाने शुरू कर दिए और जल्दी ही मृतका दादी समझ गई कि उसकी पोती भूमिका ही ऐसा करती है। इससे परेशान होकर दादी को अपने रास्ते से हटाने के लिए भूमिका ने अपने साथियों के साथ मिलकर उदित झा को ब्लैकमेल करते हुए धमकी दी कि तू मेरी दादी को रास्ते से हटा दे वरना तेरी प्राइवेट वीडियो को वायरल कर दिया जाएगा। योजना ये बनी कि जब घर के सभी लोग जरूरी काम से घर से बाहर चले जाएं तो युवक घर जाकर दादी का काम तमाम कर दे।

प्लान के तहत दिया गया वारदात को अंजाम
गंगा सप्तमी के दिन मृतका बुजुर्ग महिला अर्चना के घर के सभी सदस्य गंगा स्नान/पूजन हेतु हरिद्वार चले गए तो मृतका की पोती भूमिका ने उदित झा को अपने घर की सारी जानकारी उपलब्ध करवाकर सूचना दी गई कि आज अच्छा मौका है हमारे घर पर जाकर मेरी दादी को रास्ते से हटा दो। उदित झा उस समय गंगा पूजा के लिए हर की पैड़ी गया था। वहां से स्कूटी से घर आया और अपने कपड़े चेंज कर रास्ते से अंसारी मार्केट से हथौड़ा खरीदकर अपनी स्कूटी से घर से कुछ दूर आकर स्कूटी को आधे रास्ते मे साइड कहीं लगाकर उसके बाद सीसीटीवी कैमरो से बचने के लिये छाता ओढकर पैदल-पैदल गलियों से चलकर उसके घर पर आया। दरवाजा  दादी ने खोला। उदित झा ने बुजुर्ग पोते मुकुंद के बारे पूछा और उसे अपना दोस्त बताकर मृतका से पीने के लिये पानी माँगा जब वह बरामदे मे रखे फ्रीज से पानी निकाल रही थी तो उसी दौरान मुख्य उदित झा ने अचानक हथोड़े से चेहरे पर वार कर दिया। जिससे महिला चिल्लाई तो उसने पकड़े जाने के डर से बदहवास हालत मे मृतका के सिर व चेहरे के ऊपर हथोड़े से कई वार कर दिये और बुजुर्ग को लहुलुहान कर घर से निकलकर गली मे पैदल पैदल भागा व रास्ते से अपनी स्कूटी लेकर पास मे ही अपने घर निकल गया। हत्यारोपित की निशानदेही पर हथोड़ा, मास्क, छाता व स्कूटी बरामद की गई। घटना के पर्याप्त cctv साक्ष्य हैं, विधिक  कार्यवाही अमल में  लायी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here