केदारनाथ यात्रा पर पहुंच रहे श्रद्धालुओं की यात्रा को सुगम एवं सुव्यवस्थित ढंग से संचालित करने के लिए सभी विभागों ने व्यवस्थाएं की चाक-चैबंद।

0
16

रुद्रप्रयाग – केदारनाथ धाम में दर्शन करने आ रहे श्रद्धालुओं को सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हों तथा उनकी यात्रा को सुगम एवं सुव्यवस्थित ढंग से संचालित हो इसके लिए जिलाधिकारी के निर्देशन में यात्रा से जुड़े विभागों द्वारा केदारनाथ यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक सभी व्यवस्थाएं चाक-चैबंद की गई हैं।

यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक स्वच्छ पेयजल के साथ-साथ घोड़े-खच्चरों के लिए भी उचित प्रबंधन

अधिशासी अभियंता जल संस्थान अनीश पिल्लई ने जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों को पेयजल की कोई असुविधा न हो इसके लिए केदारनाथ यात्रा मार्ग से केदारनाथ धाम तक समुचित पेयजल व्यवस्था सुचारू की गई है। उन्होंने अवगत कराया है कि सोनप्रयाग से यात्रा ट्रैक रूट पर पेयजल व्यवस्था हेतु 78 स्टैंड पोस्ट लगाए गए हैं एवं 06 टैंक टाइप के स्टैंड पोस्ट भी स्थापित हैं तथा तीन स्थानों पर वाटर एटीएम स्थापित किए गए हैं जिसमें सीतापुर, सोनप्रयाग एवं गौरीकुंड शामिल हैं। जनपद की सीमा से लेकर सोनप्रयाग तक विभिन्न स्थानों पर 175 हैंड पम्प स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि घोड़े-खच्चरों के लिए पानी की समुचित व्यवस्था हेतु गौरीकुंड घोड़ा पड़ाव से केदारनाथ घोड़ा पड़ाव तक 39 चरहियां बनाई गई हैं। इसके साथ ही घोड़े-खच्चरों के लिए 13 स्थानों पर गीजर लगाते हुए गरम पानी की व्यवस्था की गई है।

केदारनाथ यात्रा मार्ग पर समुचित शौचालय की व्यवस्था

सुलभ इंटरनेशनल के इंचार्ज धनंजय पाठक ने अवगत कराया है कि सुलभ इंटरनेशल द्वारा यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक श्रद्धालुओं के लिए समुचित शौचालय की व्यवस्था उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने कहा कि सोनप्रयाग से लेकर केदारनाथ पैदल मार्ग में 82 स्थानों पर सुलभ शौचालय तैयार किए गए हैं। इसके साथ ही केदारनाथ धाम में 135 सुलभ शौचालय तैयार किए गए हैं। सुलभ शौचालय की साफ-सफाई व्यवस्था हेतु 74 पर्यावरण मित्र तैनात किए गए हैं इसी के साथ ही सीतापुर पार्किंग से लेकर केदारनाथ धाम तक साफ-सफाई हेतु 400 पर्यावरण मित्रों को लगाया गया है। इसी तरह जिला पंचायत द्वारा यात्रा मार्ग से लेकर सीतापुर तक साफ-सफाई व्यवस्था हेतु 70 पर्यावरण मित्रों को लगाया गया है। नगर पंचायत केदारनाथ द्वारा केदारनाथ धाम की साफ-सफाई व्यवस्था के लिए 51 पर्यावरण मित्रों को लगाया गया है। इसके साथ ही यात्रा मार्ग सिरोहबगड़ से लेकर सोनप्रयाग तक विभिन्न स्थानों पर सुलभ शौचालय स्थापित किए गए हैं।

सोनप्रयाग से लेकर केदारनाथ धाम तक समुचित विद्युत व्यवस्था
केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों को रात्रि के समय आवाजाही में रोशनी के कारण कोई परेशानी न हो इसके लिए विद्युत विभाग द्वारा सोनप्रयाग से लेकर केदारनाथ धाम तक लगभग 850 स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं। इसी के साथ उरेड़ा विभाग द्वारा भी यात्रा ट्रैक रूट से लेकर धाम तक 200 स्थानों पर सौर ऊर्जा स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं, जिससे कि दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों को रात्रि के समय आवागमन में किसी तरह से असुविधा एवं परेशानी न हो।

सोनप्रयाग से केदारनाथ धाम तक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा

केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों को किसी भी तरह से स्वास्थ्य खराब होने की दशा में एवं किन्हीं कारणों से चोट लगने एवं घायल होने पर तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सोनप्रयाग से लेकर केदारनाथ धाम तक 12 स्थानों पर एमआरपी तैयार की गई है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. एचसीएस मार्तोलिया ने अवगत कराया है कि तीर्थ यात्रियों को उचित स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए विभिन्न स्थानों पर एमआरपी स्थापित हैं जिसमें सोनप्रयाग, छौड़ी, चीरबासा, जंगलचट्टी, भीमबली, छोटी लिनचोली, बड़ी लिनचोली, भैंरों ग्लेशियर छानी कैम्प, रुद्रा प्वाइंट, बेस कैम्प केदारनाथ (विवेकानंद) तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र केदारनाथ में स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here